Uncategorized

संस्कृति स्कूल आफ एजूकेशन में हुई फेयरवेल पार्टी, विदाई पर भर आई आखें

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ़ एजुकेशन में अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को भावभीनी विदाई दी गई। जूनियर विद्यार्थियों ने अपने पढ़ाई पूरी कर जा रहे विद्यार्थियों को पुरानी यादों को संजो कर रखने वाले संकल्प के साथ विदा किया। इन विद्यार्थियों में एम.एड., बी.एड., बीएससीबीएड, बीएबीएड, बीएलएड अंतिम वर्ष के विद्यार्थी शामिल थे। इस मौके पर मिस फेयरवेल निमिषा स्वरुप बीएबीएड एवं मिस्टर फेयरवेल संस्कार श्रीवास्तव बीएससीबीएड को चुना गया।
संस्कृति विवि के कुलपति प्रो० एम० बी० चेट्टी ने अपने जीवन से जोड़ कर विभिन बिंदुओं के माध्यम से विद्यार्थियों को प्रोत्साहित किया एवं अच्छे शिक्षक बनने में आने वाली चुनौतियों एवं समाधान को बताया। डॉ. रेनू गुप्ता ने विद्यार्थिओं को कड़ी मेहनत कर आगे बढ़ने के लिए प्रोत्साहित किया और बताया की सफलता मेहनत से ही मिलती है। डॉ. मृत्युंजय मिश्रा ने विद्यार्थिओं को शिक्षक के उत्तर दायित्व को बताया, भावी भविष्य के लिए शुभकामनाये दीं एवं आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया। डॉ० सरस्वती घोष ने विद्यार्थियों को शुभकामनाएं दीं, जयप्रकश ने विद्यार्थियों से अपने पुराने अनुभव साझा किए। जज के रूप में डॉ० निशा चंदेल एवं डॉ० नेहा पाठक ने अपने निर्णय से मिस एवं मिस्टर फेयरवेल को चुना। मिस्टर पॉपुलर दीपक अग्रवाल, मिस पॉपुलर मेघना सिंह को चुना गया। मिस इवनिंग शिवानी शर्मा को चुना गया।
विद्यार्थियों ने विदाई समारोह के दौरान विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम प्रस्तुत किए। चेष्टा, वंदना चौधरी, मेघना सिंह, शिवानी शर्मा, हर्षिता सैनी, नेहा, हर्षिता भरद्वाज, राधिका आदि ने नृत्य प्रस्तुत किया। आलोक वर्मा ने सांग प्रस्तुत किया। विद्यार्थियों ने रैंप वाक किया, कविता एवं शायरी के माध्यम से श्रोताओं को हंसाते रहे। विद्यार्थियों ने विभिन्न गेम भी खेले। इस अवसर पर सभी ने मिलकर केक काटा तथा मिस एवं मिस्टर को खिलाया, विद्यार्थियों ने अपने अनुभव साझा करते समय बताया सफलता का कोई सूत्र नहीं होता, कुछ कार्यनीति एवं कठिन परिश्रम ही सफलता का मुख्य सूत्र है। विद्यार्थियों ने बताया कि विश्वविद्यालय से जो ज्ञानार्जन मिला वह उनके लिए एक कर्ज के समान है। इस दौरान विद्यार्थिओं के आँखों में विदाई दर्द दिखाई दिया।
कार्यक्रम का शुभारम्भ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो० एम० बी० चेट्टी, डीन स्कूल ऑफ़ एजुकेशन डॉ. रेनू गुप्ता, डॉ. मृत्युंजय मिश्रा, डॉ. निशा चंदेल, डॉ. पूनम गुप्ता, डॉ० प्रियंका गौतम, जयप्रकाश, पुष्पेंद्र ने दिप प्रज्वलित कर किया। कार्यक्रम का संयोजन डॉ० पूनम गुप्ता एवं डॉ० प्रियंका गौतम ने किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *