Others

संस्कृति विवि ने शुरू किए विशेष पाठ्यक्रम, नौकरी के मौके मिलेंगे

मथुरा। संस्कृति विश्वविद्यालय में कुछ ऐसे विशेष कोर्स शुरू किए गए हैं जिनमें विद्यार्थियों को रोजगार मिलने की सुनिश्चितता है। कौशल आधारित इन कोर्सेज में विद्यार्थियों को रोजगार के साथ-साथ स्टाइपंड के साथ इंटर्नशिप की गारंटी भी दी जा रही है। इंटरशिप के दौरान विद्यार्थियों को स्टाईपंड भी दिया जाएगा।
संस्कृति विश्वविद्यालय की सीईओ श्रीमती मीनाक्षी शर्मा ने एक जानकारी में बताया कि बैचलर ऑफ बिजनेज एडमिनिस्ट्रेशन के अतंर्गत मैनेजमेंट, लॉजिस्टिक, कास्मेटोलाजी, सप्लाई चेन मैनेजमेंट कोर्स शुरू किए गए हैं। इसके अलावा स्नातक शिक्षा में बैचलर आफ वोकेशन इन हास्पिटेलिटी, में बैचलर आफ वोकेशन इन कास्मेटोलाजी शुरू किये गए हैं। इनमें पढ़ाई के साथ-साथ इंटर्नशिप/एप्रेंटिसशिप जॉब स्टाइपंड के साथ मिलेगी। इसके अलावा एमबीए वेल्थमैनेजमेंट कोर्स रोजगार की सुनिश्चितता के साथ शुरू किया जा रहा है। कुछ अन्य महत्वपूर्ण वेल्युएडेड कोर्सेज भी शुरू किए गए हैं, जो रोजगार दिलाने में सहायक सिद्ध होंगे, जिनमें आईआईटी क्रेडिट टीआरएफ कोर्सेज, एमबीए में आईआईएम सर्टिफिकेट कोर्सेज, पालीटेक्निक विद इलेक्ट्रिक व्हीकल शामिल हैं।
सीईओ ने बताया कि ये सभी पाठ्यक्रम उद्योग जगत की मांग को देखते हुए शुरू किये जा रहे हैं। महत्वपूर्ण बात यह है कि औद्योगिक कंपनियां भी इन पाठ्यक्रमों में भागीदारी करेंगी। ये कंपनियां अपने यहां इन विद्यार्थियों को इंटर्नशिप भी देंगी ताकि पाठ्यक्रम पूरा करने के साथ-साथ उन्हें प्रशिक्षित करने और रोजगार देने में सहजता हो सके। श्रीमती शर्मा ने कहा कि संस्कृति विवि निरंतर इस प्रयास में है कि तेजी से बदलते औद्योगिक और सेवा प्रदाता कंपनियों के काम के अनुसार विद्यार्थियों को शिक्षा एवं प्रशिक्षण दिया जा सके। विद्यार्थी अपनी रुचि के आधार पर कोर्सेज का चयन कर सकें और जब रोजगार पाएं तो उनको जो काम मिले उससे वे अपरिचित न हों। विद्यार्थियों के भविष्य के निर्माण की दृष्टि से संस्कृति विवि औद्योगिक जगत की भागीदारी के साथ इन कोर्सों शुरू करने जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *