Education

युवाओं को हानिकारक तम्बाकू उत्पादों से बचाना जरूरीः डॉ. मनेश लाहौरीके.डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल ने चलाया तम्बाकू निषेध अभियानएक से 31 मई तक दंत चिकित्सकों ने बताए तम्बाकू के दुष्परिणाम

मथुरा। आमजन को तम्बाकू से होने वाले घातक दुष्परिणामों से बचाने के लिए के.डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल द्वारा एक से 31 मई तक सम्पूर्ण मथुरा जनपद में तम्बाकू निषेध अभियान चलाया गया। कॉलेज के डीन और प्राचार्य डॉ. मनेश लाहौरी ने विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर कहा कि युवाओं को हानिकारक तम्बाकू उत्पादों से बचाने के लिए कठोर नियम-कानून बनाने के साथ ही बच्चों की तम्बाकू उद्योग में संलिप्तता को पूरी तरह रोका जाना जरूरी है।
के.डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल के सार्वजनिक स्वास्थ्य दंत चिकित्सा विभाग और इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ डेंटिस्ट्स (आईसीडी) के सहयोग से मई माह में सम्पूर्ण मथुरा जनपद में तम्बाकू निषेध अभियान चलाया गया। इस अभियान में डॉ. नवप्रीत कौर (प्रोफेसर एवं प्रमुख), डॉ. विवेक शर्मा (रीडर), डॉ. मनीष भल्ला (रीडर), डॉ. रूपाली गुप्ता (रीडर), डॉ. विनय मोहन (प्रोफेसर एवं प्रमुख), डॉ. सोनल गुप्ता (प्रोफेसर एवं प्रमुख), डॉ. सिद्धार्थ सिसोदिया (प्रोफेसर), प्रशासनिक अधिकारी नीरज छापड़िया तथा सार्वजनिक स्वास्थ्य दंत चिकित्सा विभाग के स्नातकोत्तर छात्र-छात्राओं ने हिस्सा लिया।
विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर डॉ. मनेश लाहौरी ने कहा कि इस साल की थीम बच्चों को तम्बाकू उद्योग के हस्तक्षेप से बचाना है ताकि भावी पीढ़ी की रक्षा की जा सके और यह सुनिश्चित किया जा सके कि तम्बाकू के उपयोग में गिरावट आ रही है। डॉ. लाहौरी ने कहा कि इस वर्ष युवाओं के प्रति तम्बाकू उद्योग के लक्षित विपणन की चिन्ताजनक प्रवृत्ति की ओर ध्यान दिया गया है जोकि अच्छा कदम है। विश्व तम्बाकू निषेध अभियान के तहत कॉलेज के डीन और प्राचार्य डॉ. मनेश लाहौरी के मार्गदर्शन में दंत चिकित्सकों द्वारा मई माह में जगह-जगह इस वर्ष की थीम पर जागरूकता वार्ता और प्रतिज्ञा समारोह के आयोजन किए गए।
तम्बाकू निषेध अभियान की शुरुआत एक मई को कॉलेज के ओपीडी क्षेत्र में बैनर प्रदर्शन से हुई थी। इसके बाद चिकित्सकों ने श्री श्यामलक्ष्मी दंत चिकित्सालय ग्रामीण उपकेंद्र, बरसाना, राजीव इंटरनेशनल स्कूल, सर्वोदय इंटर कॉलेज, संविद् गुरुकुलम, वृन्दावन, जिला कारागार मथुरा आदि में तम्बाकू का कभी सेवन न करने की शपथ दिलाई। छात्र-छात्राओं ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से तम्बाकू से होने वाले दुष्परिणामों से लोगों को अवगत कराया साथ ही उन्हें मौखिक स्वच्छता किटें वितरित कीं।
इस अभियान के तहत संस्थान तथा इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ डेंटिस्ट्स (आईसीडी) द्वारा स्नातक तथा स्नातकोत्तर छात्र-छात्राओं के लिए विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया। छात्र-छात्राओं ने ई-पोस्टर, रील तथा डेंटल स्क्रीनिंग आदि के माध्यम से तम्बाकू से होने वाले दुष्परिणामों को रेखांकित किया। 31 मई विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर कॉलेज परिसर में संकाय सदस्यों, छात्र-छात्राओं द्वारा रोगियों तथा उनके परिजनों को तम्बाकू से होने वाले दुष्परिणाम बताए गए। इस अवसर पर छात्र-छात्राओं ने नुक्कड़ नाटक किया तथा शैक्षिक पुस्तिकाएं वितरित कीं। डॉ. लाहौरी ने बताया कि मई माह में के.डी. डेंटल कॉलेज एण्ड हॉस्पिटल की ओपीडी में आने वाले सभी मरीजों की ओरल मेडिसिन और रेडियोलॉजी विभाग द्वारा निःशुल्क ओरल कैंसर की जांच की गई। विश्व तम्बाकू निषेध दिवस पर शुक्रवार को संस्थान के डीन डॉ. मनेश लाहौरी ने विभिन्न प्रतियोगिताओं के विजेता तथा उप-विजेता छात्र-छात्राओं को प्रमाण पत्र देकर प्रोत्साहित किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *