Education

जी.एल. बजाज के छात्र-छात्राओं ने किया एआईसी का शैक्षिक भ्रमणअटल इनक्यूबेशन सेण्टर में हासिल की उद्यमिता की सम्पूर्ण जानकारी

मथुरा। जी.एल. बजाज ग्रुप ऑफ इंस्टीट्यूशन्स के छात्र-छात्राओं ने हाल ही में ग्रेटर नोएडा स्थित बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट एण्ड टेक्नोलॉजी के अटल इनक्यूबेशन सेण्टर का भ्रमण किया। इस शैक्षणिक भ्रमण में छात्र-छात्राओं ने उद्यमशीलता पारिस्थितिकी तंत्र की जटिलताओं को न केवल समझा बल्कि इस क्षेत्र में ऊंची उड़ान भरने के तौर-तरीके भी सीखे।
जी.एल. बजाज के प्रबंधन अध्ययन विभाग द्वारा स्टार्टअप्स और उद्यमिता की महत्वपूर्ण जानकारी दिलाने के लिए विगत दिवस छात्र-छात्राओं को अटल इनक्यूबेशन सेण्टर ले जाया गया। इस शैक्षिक भ्रमण में छात्र-छात्राओं का मार्गदर्शन संस्थान की निदेशक प्रो. (डॉ.) नीता अवस्थी, विभागाध्यक्ष प्रबंधन डॉ. शशि शेखर तथा डॉ. तनुश्री गुप्ता ने किया। एआईसी की जहां तक बात है यह भारत सरकार के नीति आयोग द्वारा शुरू किया गया एक प्रतिष्ठित व्यावसायिक इनक्यूबेशन सेण्टर है, जोकि स्टार्टअप्स और उद्यमिता के विकास को प्रोत्साहित करता है।
अपने शैक्षिक भ्रमण में छात्र-छात्राओं ने जहां इस सेण्टर की विभिन्न वर्कशॉप और प्रयोगशालाओं को देखा वहीं उन्नत मशीनरी से लैस उद्योग संचालन का प्रत्यक्ष ज्ञान भी प्राप्त किया। यहां के वरिष्ठ प्रशिक्षक और मेंटर मनीष सिंह ने छात्र-छात्राओं को स्टार्टअप्स के विभिन्न पहलुओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने छात्र-छात्राओं को नई परियोजनाओं के शुभारम्भ, प्रबंधन, उत्पाद विकास, निर्माण रणनीतियां, ग्राहक पहचान और विपणन युक्तियों जैसे महत्वपूर्ण संगठनात्मक कार्यों पर विस्तार से बताया।
प्रशिक्षक मनीष सिंह ने नवीन उद्यमों की स्थापना और पोषण में शामिल जटिलताओं की जानकारी देने के साथ छात्र-छात्राओं को स्टार्टअप पारिस्थितिकी तंत्र की गतिशील चुनौतियों को नेविगेट करने के आवश्यक व्यावहारिक दृष्टिकोण भी प्रदान किए। दरअसल, अटल इनक्यूबेशन सेण्टर उद्यमिता विकास कार्यक्रम को चार व्यावहारिक चरणों खोज, शुरुआत, मार्गदर्शन और उड़ान में प्रतिपादित करता है। इस शैक्षिक भ्रमण में छात्र-छात्राओं ने उद्यमशीलता यात्रा की गहन समझ, स्टार्टअप की शुरुआत से लेकर यूनिकॉर्न का दर्जा प्राप्त करने तक की जानकारी हासिल की।
अंत में एक इंटरेक्टिव सत्र का आयोजन किया गया जिसमें छात्र-छात्राओं ने अपने व्यावसायिक विचारों को साझा किया। इस शैक्षिक भ्रमण को विद्यार्थियों ने प्रेरणादायक बताते हुए कहा कि सही समर्थन और मार्गदर्शन मिलने पर वे भी उद्यमशीलता के क्षेत्र में ऊंची उड़ान भर सकते हैं। संस्थान की निदेशक प्रो. नीता अवस्थी ने बताया कि जी.एल. बजाज नई पीढ़ी को किताबी ज्ञान के साथ ही उन्हें राष्ट्रीय तथा वैश्विक चुनौतियों का सामना करने के उपाय भी सुझाता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *